PM Kisan FPO Yojana 2022: सरकार किसान समूहों को दे रही है 15 लाख रुपए, इस प्रकार करे आवेदन

PM Kisan FPO Yojana 2022: देश के प्रधानमंत्री मोदी जी ने उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में पीएम किसान एफपीओ योजना की शुरुआत की है।

PM Kisan FPO Yojana 2022: देश के प्रधानमंत्री मोदी जी ने उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में पीएम किसान एफपीओ योजना की शुरुआत की है। भविष्य में 5 साल में सरकार पीएम किसान एफपीओ योजना में करीब 5 हजार करोड़ रुपये का निवेश करने जा रही है। इस योजना के तहत केवल वही लाभ प्रदान किए जाएंगे जो किसी कंपनी को दिए जाते हैं। लेकिन ये संगठन सहकारी राजनीति से पूरी तरह अलग होंगे, यानी इस कंपनी पर कॉरपोरेट एक्ट नहीं थोपे जाएंगे।

सबसे पहले शिक्षा समाचार, सरकारी नौकरियों, रिजल्ट, एडमिट कार्ड, योजनाओं की अपडेट पाने के लिए जुड़िए हमसे व्हाट्सएप ग्रुप और टेलीग्राम ग्रुप पर – टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ें | व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

PM Kisan FPO Yojana 2022
PM Kisan FPO Yojana 2022

किसान एफपीओ स्कीम क्या है?

एफपीओ को मोटे तौर पर किसान उत्पादक संगठन (Farmer Producer Organisation) कहा जाता है, यह किसानों का एक संगठन है जो कृषि उत्पादन के कार्य में शामिल होता है। इसके अलावा कृषि से संबंधित किसी भी अन्य गतिविधि को आगे बढ़ाया गया है। इस योजना के तहत किसानों को आपस में एक समूह बनाकर कंपनी अधिनियम के तहत पंजीकृत कराना होता है। इस बार पीएम किसान एफपीओ योजना में पंजीकृत होने के बाद किसानों को कई लाभ मिलने लगे हैं।

सीएससी किसान FPO का मालिक कौन होगा?

यह एक तरह का संगठन है जिसमें हर किसान सदस्य भाग लेगा। सभी किसानों की भागीदारी समान होगी, भले ही वे बड़ी मात्रा में कार्यशील पूंजी बनाने में योगदान दें। किसी भी किसान को लाभ या हानि होने की स्थिति में सभी सदस्य किसान इसमें भागीदार होंगे। तो यह निष्कर्ष निकलता है कि सीएससी किसान उत्पादक संगठन के सभी सदस्य किसान मालिक होंगे।

सबसे पहले शिक्षा समाचार, सरकारी नौकरियों, रिजल्ट, एडमिट कार्ड, योजनाओं की अपडेट पाने के लिए जुड़िए हमसे व्हाट्सएप ग्रुप और टेलीग्राम ग्रुप पर – टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ें | व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

किसान एफपीओ बनाकर सरकार से पैसा लेने में शर्ते

अगर कुछ किसान एफपीओ में कुछ किसानों का समूह बनाना चाहते हैं, तो उससे पहले कुछ शर्तों और नियमों को जानना होगा। एफपीओ बनने के बाद सरकार इस पर करोड़ों रुपये का निवेश करती है। इसका फायदा किसानों को मिल रहा है। किसानों की समस्याओं को सबसे ऊपर रखा गया है। यदि कोई किसान एफपीओ संगठन बनाने की योजना बना रहा है, तो उसे निम्नलिखित शर्तों को ध्यान में रखना चाहिए –

  • देश का कोई भी किसान एफपीओ का सदस्य बन सकता है।
  • इस संगठन को 10 लाख रुपये की "कार्यशील पूंजी" की आवश्यकता है।
  • किसान संगठन बनाने के लिए कम से कम 10 किसानों की आवश्यकता होगी।
  • इस संगठन से अधिकतम 1000 किसानों को सदस्य बनाया जा सकता है। इनमें से प्रत्येक किसान प्रत्येक किसान से 1000 रुपये की पूंजी लेकर 10 लाख रुपये की कार्यशील पूंजी बना सकता है।
  • किसान एफपीओ योजना में पंजीकरण के लिए कुछ शुल्क देना होता है।
  • वे किसान जो सीएससी किसान नहीं हैं वे इस संगठन के सदस्य नहीं बन सकते हैं।

सबसे पहले शिक्षा समाचार, सरकारी नौकरियों, रिजल्ट, एडमिट कार्ड, योजनाओं की अपडेट पाने के लिए जुड़िए हमसे व्हाट्सएप ग्रुप और टेलीग्राम ग्रुप पर – टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ें | व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

किसान एफपीओ के फायदों को जाने

  • किसान एफपीओ छोटे और सीमांत किसानों का एक समूह है जिसमें पंजीकृत किसानों को उनकी कृषि उपज के लिए बाजार मिलता है। इसके साथ ही खेती के लिए खाद, बीज, दवाएं और कृषि उपकरण आदि खरीदना बहुत आसान हो जाएगा.
  • किसान एफपीओ बनने के बाद किसानों को बहुत सस्ती दरों पर कई सेवाएं मिलेंगी। साथ ही बिचौलियों की समस्या से भी मुक्ति मिलेगी।
  • एफपीओ प्रणाली में लाभार्थी किसानों को उनकी कृषि उपज का अच्छा मूल्य दिया जाएगा और वे उन्हें सीधे बाजार में बेच सकेंगे।
  • इस संगठन से जुड़े किसानों में एकता और भाईचारे की भावना पैदा की जाएगी, ताकि भविष्य में इन किसानों का किसी भी तरह से शोषण न हो।
  • किसान को उसकी उपज या उसकी उपज का उचित मूल्य मिल सकेगा।
  • सरकार अगले 5 साल में ही 10,000 नए कृषि उत्पाद संगठन (एफपीओ) खोलेगी।
  • इस कार्य के लिए सरकार ने वर्ष 2023-24 तक 10,000 नए एफपीओ खोलने का लक्ष्य रखा है।

एफपीओ की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

  • सबसे पहले योजना के आधिकारिक वेबपोर्टल https://enam.gov.in/web/ को ओपन कर लें।
  • वेब पोर्टल के होमपेज के शीर्ष पर "पंजीकरण" विकल्प चुनें।
  • अगले पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म मिलेगा।
  • आवेदन पत्र में पंजीकरण प्रकार के अनुभाग में "विक्रेता" विकल्प चुनें।
  • इसके बाद रजिस्ट्रेशन कैटेगरी के तहत “FPO/FPC” चुनें।
  • फॉर्म भरने के बाद आवश्यक प्रमाण पत्र अपलोड करें।
  • अंत में, अपने फॉर्म विवरण की जांच करने के बाद, “सबमिट” बटन दबाएं।
  • अब आपको एसएमएस और ईमेल के जरिए लॉगिन डिटेल्स मिल जाएंगी।
  • लॉगिन आईडी योजना के वेब पोर्टल में लॉग इन करने के बाद आप दिए गए लाभों का लाभ उठा सकते हैं।

सबसे पहले शिक्षा समाचार, सरकारी नौकरियों, रिजल्ट, एडमिट कार्ड, योजनाओं की अपडेट पाने के लिए जुड़िए हमसे व्हाट्सएप ग्रुप और टेलीग्राम ग्रुप पर – टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ें | व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

महत्वपूर्ण लिंक ( Important Links )

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
अति आवश्यक सूचना: फास्ट रोजगार टीम द्वारा किसी भी उम्मीदवार को जॉब ऑफर या जॉब सहायता के लिए संपर्क नहीं करते हैं। Fastrojgar.com कभी भी जॉब्स के लिए किसी उम्मीदवार से शुल्क नहीं लेता है। कृपया फर्जी कॉल या ईमेल से सावधान रहें। किसी भी सहायता के लिए कृपया फास्ट रोजगार ऑफिशियल Twitter पर ट्वीट कर सकते हैं।
Fast Rojgar WhatsApp Group
CLOSE ADVERTISEMENT